Site icon Yojana Tv

गर्मी के समय में मूंग की खेती, Garmi me Mung ki Kheti जानकारी, बीज, उत्‍पादन

Garmi me Mung ki Kheti :- मेरे किसान भाई मूंग दलहनी फसलों में से एक है गर्मी के समय में अनेक किसान भाइयों के खेत खाली रहते हैं जिम आप मूंग की खेती कर कर अच्छा खासा मुनाफा कमा सकते हैं

तो इस आर्टिकल में हम गर्मी में मूंग की खेती करने के लिए सारी जानकारी आपसे साझा करने वाले इस आर्टिकल में हम जानेंगे मूंग की खेती करने के लिए लागत खेत की तैयारी बीच की किस्म उत्पादन और खरपतवार नियंत्रण आदि के बारे में बेहतर तरीके से जानेंगे तो आप इस Garmi me Mung ki Kheti आर्टिकल को पूरा पड़े

Garmi me Mung ki Kheti

खेत में मूंग बोने से किसान भाइयों खेत में नाइट्रोजन और अनेक पोषक तत्व खेत को मिलते हैं जिससे आने वाली फसल यानी कि खरीफ की फसल को बहुत फायदा मिलता है तो यदि आपके पास पर्याप्त मात्रा में पानी हो तो गर्मी के समय में आपको मूंग अवश्य बोना चाहिए

मूंंग की खेती जानकारी
समय20 फरवरी से 5 अप्रैल
मिट्टीढोमल मिट्टी

Garmi me Mung ki Kheti का सही समय

Garmi me Mung ki Kheti के लिए सही समय क्या तो वह है 20 फरवरी से 5 अप्रैल तक दोस्तों यदि आप इस समय अवधि में मूंग बोंग तो आगे आने वाले समय में आपको कोई समस्या नहीं होगी इस समय में यदि आप मूंग होते हैं तो मानसून आने से पहले ही आपकी मूंग कट जाएगी और आपके घर आ जाएगी तो आप इस समय अवधि में ही मूंग बोने का प्रयास करें

मूंग की खेती के लिया मिट्टी

मूंग की खेती के लिए मिट्टी कैसी भी हो जैसे काली मिट्टी बुरी मिट्टी, ढोमल मिट्टी, रेतीली मिट्टी सभी मिट्टी में मूंग की खेती की जा सकती है परंतु यदि ढोमल मिट्टी हो तो यह मूंग की खेती के लिए सर्वोत्तम मिट्टी मानी जाती है तथा Garmi me Mung ki Kheti मिट्टी मैं जल निकासी अच्छी तरह से होना चाहिए यानी कि अपनी एक जगह पर नहीं रुकना चाहिए

खेत तैयार

गर्मी के समय में मूंग की खेती की तैयारी के लिए दोस्तों आपको जैसे ही रवि की फसल आ जाए उसके 5 दिन बाद गहरी जुताई कर दीजिए और रोटावेटर के माध्यम से खेत को समतल बना लीजिए और फिर उसके बाद खेत में पलेवा कर दीजिए, मेरे किशन भाई पलेवा करने से आपके खेत में खरपतवार कम लगेंगे और मूंग के पौधे ज्यादा मजबूत और घना होगा

पलेवा करने के बाद दोस्तों जब आप आपके खेत में चल फिर सके ऐसा हो जाए फिर उसके बाद वापस से कल्टीवेटर से जुताई कर लेवे।

मूंग के बीज

गर्मी में मूंग की खेती से अच्छा उत्पादन प्राप्त करने के लिए नीचे दी गई किस्म का चुनाव कर कर आप अच्छा खासा उत्पादन कर सकते हैं

  1. MH 421 मूंग बीज
  2. Virat Gold मूंग बीज
  3. PDM 139 (पीसा सम्राट) मूंग बीज
  4. IPM 410 (शिखा) मूंग बीज
  5. IPM 205 (विराट) मूंग बीज

मूंग की खेती के लिए बीज उपचार

मेरे किसान भाई हमे 1 एकड़ खेत मे मुग बोने के लिए 8 से 10 किलो बीज की आवश्‍यकता पड़ेगी उसके बाद आप इन बीजो को उपचारीत करे

बीज उपचारीत करने से आपकी मूंग मे आने वाली बीमारी को आप शूरू मे ही क्‍टोल करे लेते है जिसे आपकी मूंग की खेती मे अच्‍छा उत्‍पादन देखने को मिलात है बीज उपचारी निम्‍म बिन्‍दूओ के आधार पर करे –

मूंग की खेती से होने वाले फायदे

किसान भाईयो हम हमारे खेत मे कोई सी भी फसल बोते है तो उसमे हम नाइट्रोजन, फास्‍फोरस,  पोटेशीयम(पोटाश) आवश्‍य डालते है और दहलहनी फलस होने के कारण जब हम मूंग बोते है तो इसे प्रकृति रूप से हमारे खेतो की मिट्ठी मे नाइट्रोजन मिलता है जिससे हमारे खेतो की उर्वरक क्षमता बढती है

मूंग की खेती बुआई का सही तरीका

बात की जाए मूंग की खेती की सही बुआई के तरीके की तो

लाइन से लाइन की दूरी 10 से 12 इंच

पौधे से पौधे की दूरी 10 सेटीमीटर

खरपतवार नियंत्रण

सभी खेती के लिए किसान भाई की फसल बोने मे सबसे बडी़ समस्‍या खरपतावार की होती है क्‍याकि खरपतवार अच्‍छी खासी फसल को नुकासान पहुचाते है इसलिए किसान भाई आप आपने मूंग की खेती के लिए यदि हो सके तो

अपने खेतो मे मूंग बोने के 20 से 25 दिन के बाद निदाई गुडाई करवा ले और दूसरी बार 40 से 45 दिन मे निदाई गूडाई करवा लेवे और हो सके तो आपने खेतो मे रासयनिक दवाईओ को प्रयोग कम करे

यदि आपके खेतो मे निदाई गुडाई नही करना चा‍हते या अपके पास समय और मजदूरो की कमी है या अपके खेतो मे खरपतवार ज्‍यादा हो गया है तो आप खरपतावार नासक का भी प्रयोग कर सकते हो

मूंग की खेती मे स‍िचांई

किसान भाई बात की जाए गर्मी के समय में मूंग की खेती मे सिचांई की तो बुवाई के समय पानी देने के बाद पहला पानी 20 से 25 दिन मे देवे उसके बाद आप 10 से 15 दिन के अंतराल मे पानी देवे

बात की जाए फसल पकने की तो बुआई के बाद 3 से 4 सिचांई मे फसल पक जाती है और ये सिचांई आपकी फसल बीज की अवधि पर भी निर्भर करता है यनि की यदि आपकी मूंग की फसल कम अ‍वधि की है या ज्‍यादा अवधि की है।

मूंग की खेती किन किसान भाईयो को करनी चाहिए

जो किसान भाई आपने खेतो मे रबी और खरीफ की फसल बोते है परंतु जायद की फसल के समय आने खेतो को खाली छोड देतो है वो किसान भाई मूंग की खेती कर सकते है मूंग की खेती मे सब्‍जी भाजी की खेती की तूलना मे पानी की आवश्‍कता कम होती है

यानि की 3 से 4 बार सिंचाई करने पर मूंग आ जाते है लेकिन किसान भाई बिना पानी के इसकी खेती करना सम्‍भव नही है यदि आपके पास पर्याप्‍त मात्रा मे पानी हो तो आप इसकी फसल कर सकते है।

मूंग की खेती से कमाई

मेरे किसान भाईयो मूंग कि खेती अन्‍य खेतीयो की तूलाना मे कम समय मे आ जाती है और इस खेती मे अन्‍य खेती की तुलना मे कम मेहनत भी लगती है बात की जाए Garmi me Mung ki Kheti से 1 एकड़ से आप लगभग 8 से 10 क्टिल उपज प्राप्‍त कर सकते हो

1 हेक्टेयर क्षेत्र में मूंग की खेती करने के लिए 18 से 20 हजार रुपए तक का खर्च सकता है और मूंग काा सर्मथन मूल्‍य भी 73 से 75/kg रूपये तक होता है और बाजार मूल्‍य 80 से 120 रूपये/kg तक देखने को मिलात है

 यदि यदि आपको 10 क्विंटल प्रति हेक्टेयर की उपज मिलती है तो आप 80 हजार से 1 लाख रुपए प्रति हेक्टर का मुनाफा गर्मी के समय मे कमा सकते हो

Exit mobile version